Featured »

July 30, 2018 – 9:52 pm

Completed 75 hours of Fast (only plain water) and still counting! Since it is night time here, I intend to break my fast in another 10 hours (next morning).
First 24 hours are difficult (rumbling in …

Read the full story »
Democracy & Governance
Economy
Policy Matter
Religion
Miscellaneous
Home » Miscellaneous

AAP’s Chanda Chor Gang is not only humiliating honest people, is humiliating values too!

Submitted by on February 14, 2017 – 11:06 pm
चंदा बंद सत्याग्रह अमृतसर के जलिआं वाला बाग़ में वन्दे मातरम्  स्थली पर (जनवरी 2017)
Feb 14,2017
आम आदमी पार्टी (AAP) के साथियों व् समर्थकों:
 आज अपनी आम आदमी पार्टी को दिल्ली में सत्ता में आये 2 वर्ष बीत चुके हैं. इन्कलाब की यादें ताज़ी हो आई हैं. पंजाब इलेक्शन की गर्मी भी समाप्त हो चुकी है (यदपि नतीजों के लिए 11 मार्च का इंतज़ार है). इन सब के बीच अपनी ही पार्टी के कार्यकर्तायों द्वारा 2 महीने पहले शुरू किया गया चंदा बंद सत्याग्रह अभी चल ही रहा है.  सोचा, इस अवसर पर आपसे कुछ भाव शेयर करूं.
पंजाब चुनाव के अगले दिन यानी 5 फरवरी को हम कुछ सत्याग्रही साथी दिल्ली में मुख्यमंत्री निवास पर गए ताकि युगपुरुष को हम पवित्र पुस्तक गीता के एक कॉपी भेंट कर पायें व् उन्हें सविनय स्मरण करवाएं कि किस प्रकार पार्टी चंदे की धांधली कर व पंजाब में दागियों को टिकेट देकर कर्म पथ से हट रही है.
माननीय मुख्यमंत्री जी ने गीता स्वीकार करने से स्पष्ट कर दिया.
मैं इस बात से आहत हूँ कि अपनी AAP पार्टी में इमानदार साथियों का तो तिरस्कार हो ही रहा है, अब मूल्यों का भी तिरस्कार होने लगा है.
अपनी पार्टी का चंदा चोर गैंग इमानदारी के रास्ते से तो भटक ही गया है, अब ये कर्म का भी सम्मान नहीं कर पा रहे हैं.
भगवद गीता का अपमान यही इंगित करता है.
आज 14 फरवरी 2017 को हम चंदा बंद सत्याग्रह वाले  प्रण लेते हैं कि अपनी पार्टी की जहाँ जहाँ सभा होगी, हम वहां पार्टी के भ्रष्ट नेताओं को श्रीमद  भगवत गीता देने के सविनय कोशिश करेंगे.
चंदा बंद सत्याग्रह के पीछे उद्देश्य यही है कि हमारी AAP पार्टी के नेता:
– पार्टी के बनाये गए  सिधान्तों पर वापिस आयें.
 – पार्टी के चंदे की  पारदर्शिता को वापिस लायें. एक एक चंदे का हिसाब जनता को दें, क्योंकि यह दान जनता द्वारा दिया गया है और उसे जानने का हक़ है. वैसे भी, अपनी पार्टी का यह वादा है कि हम एक एक पैसे का हिसाब किताब जनता के सामने रखेंगे . तो फिर, दान दातायों की लिस्ट पार्टी के चंदाचोर गैंग ने जून 2016 से गायब क्यों की हुयी है?
साथियों, आप और हमने IAC मूवमेंट के माध्यम से यह सीखा है:  सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन झुकता नहीं!
सत्य यही है कि पार्टी के नेता चदे के पारदर्शिता के वचन को निभाए.
इसलिए, चंदा चोरी के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रहेगा.
आप भी जुड़िये और सचाई के लिए खड़े होइए!
सस्नेह,
– डॉ. मुनीश रायजादा/ शिकागो
Website: www.NoListNoDonation.com
Phone: +1 217 720 9331
Indian Helpline: +91 78385 80979
FB: https://www.facebook.com/NoListNoDonation/
Twitter: https://twitter.com/NoListNoDonatio
Google group: https://groups.google.com/d/forum/nolistnodonation

Tags: , ,

Leave a comment

Add your comment below. You can also subscribe to these comments via RSS

Be nice. Keep it clean. Stay on topic. No spam.

You can use these tags:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong> 

This is a Gravatar-enabled weblog. To get your own globally-recognized-avatar, please register at Gravatar